जुर्मदेश - विदेशस्लाइडर

Afghanistan में Taliban का कत्लेआम: पूर्व उपराष्ट्रपति के बड़े भाई का किया सिर कलम, फिर शव पर बरसाईं गोलियां

काबुल। अफगानिस्तान (Afghanistan) की सत्ता पर बलपूर्वक काबिज होने के बाद से तालिबान (Taliban) के जुल्मों में तेजी आ गई है. तालिबान ने अपने धुर विरोधी और देश के पूर्व उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह (Amrullah Saleh) के बड़े भाई रोहुल्लाह सालेह (Rohullah Saleh) की बर्बरतापूर्वक हत्या कर दी है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक रोहुल्लाह सालेह (Rohullah Saleh) पंजशीर घाटी से काबुल जाने की कोशिश कर रहे थे. उसी दौरान तालिबानियों (Taliban) को इसका पता चल गया. उन्होंने सालेह की पहचान कर उन्हें बंदी बना लिया. इसके बाद रोहुल्लाह सालेह को कोड़ों और बिजली के तारों से पीटा गया. फिर तालिबान के आतंकियों ने उनका गला काट दिया. तालिबानी आतंकियों ने सालेह के मृत पड़े शव पर गोलियां भी बरसाईं.

दिल्ली के बाद मुंबई में ‘निर्भया’ जैसी दरिंदगी: रेप के बाद आरोपी ने महिला के प्राइवेट पार्ट में डाली रॉड, हालत गंभीर 

इस खबर की अभी तक आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है. वहीं इस बर्बर हत्या पर अमरुल्लाह सालेह (Amrullah Saleh) और पंजशीर के नेता अहमद मसूद का कोई बयान भी सामने नहीं आया है. उधर तालिबान (Taliban) ने भी इस हत्या पर चुप्पी साध रखी है. माना जा रहा है कि अगर यह घटना सच साबित हुई तो आने वाले दिनों में तालिबान के अत्याचारों में और तेजी आ सकती है.

बताते चलें कि पंजशीर को छोड़कर तालिबान (Taliban) का बाकी 33 प्रांतों पर पूरा कब्जा हो चुका है. पंजशीर में अधिकतर ताजिक मूल के लोग रहते हैं. वे अपने नेता अहमद मसूद और अमरुल्लाह सालेह (Amrullah Saleh) के नेतृत्व में तालिबान से टक्कर ले रहे हैं. हालांकि पाकिस्तान के ड्रोन विमानों की मदद से तालिबान ने पंजशीर के अधिकतर इलाकों पर अधिकार कर लिया है. फिर भी अमरुल्लाह सालेह के नेतृत्व में तालिबान विरोधी नेशनल रेजिस्टेंस फोर्स के लड़ाके पहाड़ों की चोटियों से मुकाबला जारी रखे हुए हैं.

read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button