छत्तीसगढ़स्लाइडर

और कितनी जिंदगी छीनेंगे गजराज: बाइक सवार परिवार को फुटबॉल की तरह खेले दंतैल हाथी, पति-पत्नी और 4 साल के मासूम की मौत

अंबिकापुर: छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर में हाथियों ने बुधवार रात स्कूटी सवार परिवार की जान ले ली. हाथियों ने युवक को कुचल दिया, वहीं पत्नी और 4 साल के बेटे को फुटबॉल की तरह किक मारकर करीब 100 मीटर दूर फेंक दिया. हाथियों के हमले की जानकारी मिलते ही ग्रामीण मौके पर पहुंच गए. वन विभाग को भी सूचना दी गई. इसके बाद हाथियों को जंगल की ओर खदेड़ दिया गया. हाथियों की दहशत से ग्रामीण रात भर आग जलाकर वहीं बैठे रहे. घटना उदयपुर क्षेत्र की है.

कुन्नी निवासी गौतम दास (30) अपनी पत्नी रीना दास (28) और 4 साल के बेटे युवराज के साथ स्कूटी से उदयपुर गया था. वहां माइक्रोफाइनेंस कंपनी से 30 हजार रुपए निकालने के बाद तीनों बुधवार रात गांव लौट रहे थे. इसी दौरान अलकापुरी से मोहनपुर चौक के पास रास्ते मे खड़े हाथियों ने स्कूटी सवार परिवार पर हमला कर दिया. हाथियों ने महिला व बच्चे को उछालकर दूर फेंक दिया और गौतम को कुचल दिया.

ग्रामीणों को हाथियों से दूर रहने की सलाह दी गई
घटना में तीनों की मौके पर ही मौत हो गई. जानकारी मिलते ही वन विभाग के अफसर मौके पर पहुंच गए. हाथियों को जंगल की ओर भगाने के बाद तीनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया. परिवार की मौत से ग्रामीण भी भड़क गए. हालांकि जिला पंचायत सदस्य राजनाथ सिंह ने लोगों को समझाइश दी और हाथियों से दूर रहने की सलाह दी है. इसके बाद भी दहशत के चलते ग्रामीण सारी रात आग जलाकर वहीं बैठे रहे.

रेंजर सपना मुखर्जी ने बताया कि केदमा टर्निंग प्वाइंट पर स्कूटी सवार परिवार हाथी की चपेट में आ गया. पीड़ित परिवार को गुरुवार सुबह 75 हजार की तात्कालिक सहायता दी जाएगी. इस घटना से क्षेत्र में दहशत का माहौल है. वन अमला निगरानी में जुटा हुआ है. लोगों की भीड़ हाथियों को और उग्र कर रही है. बताया जा रहा है कि 8 हाथियों का दल था, जो क्षेत्र में कई दिनों से उत्पात मचा रहा है. इसके चलते लोगों को सावधान रहने की सलाह दी गई है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button