जुर्ममध्यप्रदेशस्लाइडर

MP-CG टाइम्स IMPACT: APR एसपी के निर्देश पर पुलिस की ताबड़तोड़ छापेमारी, 8 से ज्यादा सूदखोरों की गिरफ्तारी और लाखों रुपये कैश समेत काली कमाई का पर्दाफाश

अनूपपुर। सूदखोरी के मामले में अनूपपुर पुलिस इन दिनों एक्शन मोड में है. जिले में पुलिस एक के बाद एक ताबड़तोड़ कार्रवाई कर रही है. जिससे सूदखोरों में दहशत का माहौल है. इसके पहले पुलिस अभियान चलाकर शिकायत दर्ज की थी. अब पीड़ितों की शिकायत पर कार्रवाई की है. MP-CG टाइम्स ने पहले भी सूदखोरों की काली कमाई को लेकर खबर प्रकाशित किया था.

मिली जानकारी के मुताबिक एसपी के निर्देश पर जमुना कॉलरी में पुलिस ने छापेमार कार्रवाई की है. कोतमा अनुभाग में सूदखोरों से संबंधित शिकायतें प्राप्त हो रही थी. कोयलांचल क्षेत्र के भोले भाले आदिवासी और अन्य कॉलरी कर्मचारियों को छलपूर्वक अधिक ब्याज पर ऋण देकर मुनाफा कमाया जा रहा था. उनका लोन पास करवाकर और फर्जी तरीके से अपने खातों में डालकर, उनकी मजबूरी का फायदा उठाते हुए गाढ़ी कमाई का आहरण कर लिया जाता था. जिसे पुलिस अधीक्षक अखिल पटेल ने गम्भीरता से लेते हुए ताबड़तोड़ कार्रवाई की.

इस कार्रवाई में लगभग 55 लाख रूपए नगद, 160 चेकबुक, 710 नग ब्लैंक चेक, 225 पासबुक, 73 एटीएम कार्ड, 48 पेनकार्ड, 66 आधार कार्ड, 50 शपथ पत्र, 80 अंकसूची, 25 ऋणपुस्तिका, सैकड़ों कोरे हस्ताक्षरित दस्तावेज, कोरे नोटराईज्ड दस्तावेज और अन्य दस्तावेज जब्त किए गए हैं. इसके अलावा 8 आरोपियों को हिरासत में लिया गया. सूदखोरी की समस्या को जड़ से खत्म करने के लिए सूदखोरी हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया था. जिसमें व्हाट्सएप के माध्यम से लगातार सूदखोरी की सूचनाएं प्राप्त हो रही थी.

सूदखोरों पर कब लगेगी लगाम: ढाई लाख ब्याज में कर्ज देकर सूदखोर ने वसूले 22 लाख!, SP साहब धरातल पर कब उतरेगा अभियान ? 

पुलिस अधीक्षक अखिल पटेल ने सूदखोरों के खिलाफ जनजागरूकता और शिकायत निवारण अभियान बंकिम बिहार ऑडिटोरियम हाल भालूमाड़ा में शुरू किया. इस अभियान के तहत ’जागरूकता-रथ’ को हरी झंडी दिखाकर लोगों में जागरूकता लाने की पहल की गई. इस अभियान के दौरान सूदखोरी हेल्पलाइन नंबर 6232266999 जारी किया गया. जिसके माध्यम से भारी मात्रा में आम जनता से प्राप्त शिकायतों के आधार पर रूपरेखा तैयार कर सूदखोरों को चिन्हित कर कार्रवाई की गई.

एसपी ने 10 टीमें गठित की, जिसमें डीएसपी से आरक्षक स्तर के लगभग 150 पुलिसकर्मी शामिल थे. पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 10 प्रकरण में 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया. जिनके पास से लगभग 115 पासबुक, 147 हस्ताक्षर युक्त ब्लैंकचेक, 377 नग एलआईसी बाण्ड, 47 नग चेकबुक, 68 नग शपथ पत्र, 51 नग आधार कार्ड, 30 नग ब्लैंक चेक, 28 नग एटीएम कार्ड, 22 नग पेनकार्ड, 12 नग स्टाम्प, 14 नग इकरार नामा, कई अंकसूचियां, ऋणपुस्तिका, फाइलें, गिरवी के दस्तावेज, रजिस्ट्रियां और सैकड़ों कोरे हस्ताक्षरित दस्तावेज जब्त किया है.

पुलिस ने जिन 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया है, उनमें हंष कुमार, अनुज मिश्रा, चंचल सिंह, राजकुमार पाण्डेय, दीपक नागवानी, लियाकत अली, सम्पति जैन, फूलमती केवट शामिल है. दो आरोपी परवेज और हरजीत फरार हैं. जिनकी गिरफ्तारी के लिए विशेष टीम गठित की गई है. सभी आरोपियों से पूछताछ की जा रही है. पूछताछ से प्राप्त तथ्यों के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

इसे भी पढ़ें- बूस्टर शॉट: भारत में नागरिकों को Corona Vaccine की दूसरी डोज नहीं लग पाई, इधर एक्सपर्ट ने चौथी डोज की बता दी जरूरत 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button