छत्तीसगढ़

‘चिंतन शिविर’ से निकला थूक का ‘जिन्न’: BJP प्रभारी डी पुरंदेश्वरी का बेतुका बयान, बोलीं- ‘बीजेपी कार्यकर्ता थूकेंगे, तो CM और कांग्रेस का मंत्रिमंडल बह जाएगा’

जगदलपुर। बस्तर में ‘चिंतन शिविर’ के दौरान बीजेपी छत्तीसगढ़ प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी ने बेतुका और विवादित बयान दिया है. किसी ने कल्पना भी नहीं की थी कि कभी कांग्रेस पार्टी में रही पुरंदेश्वरी बीजेपी में आने के बाद कांग्रेस को लेकर ऐसा चौंकाने वाला बयान देंगी. पुरंदेश्वरी बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहीं थीं, तभी उन्होंने अनर्गल टिप्पणी करते हुए कहा कि ‘भाजपा के जितने कार्यकर्ता हैं, अगर पीछे मुड़कर थूकेंगे तो मुख्यमंत्री और कांग्रेस का मंत्रिमंडल उस थूक में बह जाएगा, आने वाले चुनाव में कांग्रेस को आप उखाड़ सकते हैं’.

इस बयान के बाद सियासी गलियारों में हलचल तेज हो गई. कांग्रेस को बीजेपी के खिलाफ पकापुकाया मुद्दा मिल गया. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पुरंदेश्वरी के इस बयान पर तीखी प्रतिक्रिया दी है. भूपेश बघेल ने कहा कि इस बयान पर क्या प्रतिक्रिया दें, मुझे उम्मीद नहीं थी कि बीजेपी में जाने के बाद डी पुरंदेश्वरी की मानसिक स्थिति इस स्तर पर उतर आएगी. मुख्यमंत्री भूपेश ने कहा कि हमें ऐसी उम्मीद नहीं थी. वह हम लोगों के साथ थीं, अर्जुन सिंह के साथ राज्यमंत्री थी तब तो ठीक-ठाक थी. भारतीय जनता पार्टी में जाने के बाद उनकी यह स्थिति हो गई है. यदि आसमान पर थूकोगे तो खुद के चेहरे पर ही गिरता है.

बता दें कि इसके पहले पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह ने बीजेपी संभागीय कार्यकर्ता सम्मेलन में सरकार के साथ नौकरशाहों पर जोरदार निशाना साधा. उन्होंने कहा कि पेमेंट सीट पर कलेक्टर और एसपी आ रहे हैं. कलेक्टर से लेकर पंचायत सचिव तक भ्रष्टाचार में शामिल हैं. ऐसे लोगों की अभी से लिस्ट बनाना शुरू कर दें. ढाई साल बाद हमारी सरकार आएगी, तब इन सभी की क्लास लगेगी.

छत्तीसगढ़ बीजेपी के कई नेता इस शिविर में हिस्सा नहीं ले सके. बस्तर में बीजेपी के चिंतन शिविर में इन चेहरों की गैरमौजूदगी कई सवालों को जन्म दे रही है, क्योंकि बीजेपी मिशन 2023 को लेकर एक्शन प्लान तैयार कर रही है. यहां कई बड़े नेताओं का जमावड़ा है. इसमें राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश, प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी, सह प्रभारी नितिन नबीन, पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय समेत सभी सांसद-विधायक मौजूद हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button