छत्तीसगढ़जुर्मस्लाइडर

गरियाबंद में बड़े भाई का खौफनाक कत्ल: लोन जमा करने को बोला तो छोटे भाइयों ने पीट-पीटकर मार डाला, इधऱ करंट लगने से महिला की मौत

गिरीश जगत, गरियाबंद। छत्तीसगढ़ के गरियाबंद में जिले में एक खूनी वारदात हुई है, जिसमें सगे भाइयों ने अपने बड़े भाई को पीट-पीटकर मार डाला। बताया जा रहा है कि बैंक में लोन चुकाने की बात को लेकर विवाद हुआ, जिसमें भाइयों ने लाठी-डंडे से पीटकर जान ले ली। इस हत्या के बाद से इलाके में दहशत का माहौल है। पूरा मामला पीपरछेड़ी थाना क्षेत्र का है।

दरअसल, बिजापानी गांव में जुझार सिंह अपने अन्य दो भाइयों को खाता से छुरा सहकारी बैंक में उठाए गए लोन को पटाने को कहा। उसके छोटे भाई देवीन सिंह और ललित सिंह सोरी ने लकड़ी के टुकड़े से पीठ पर वार कर उसे घायल कर दिया।समय पर इलाज नहीं मिलने के कारण जुझार सिंह की मौत हो गई।

थाने में शिकायत करने से पहले मौत

पत्नी रूखमणी बाई की शिकायत पर पिपिरछेडी पोलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी छोटे भाई को गिरफ्तार कर लिया है। पीड़िता ने बताया कि पुराने लोन को पटाने जब पति ने कहा तो उनके दोनों भाइयों ने पीट-पीटकर अधमरा कर दिया।मारपीट की घटना की शिकायत लिखाने की तैयारी कर रहे थे। इसी बीच पति की मौत हो गई।

मामले में एडिशनल एसपी डीसी पटेल ने बताया कि घटना 23 जनवरी दोपहर की है। सूचना मिलने के बाद मामले में देर रात अपराध पंजीबद्ध कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पीएम के बाद शव को परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया है।

करंट लगने से मौत हो गई महिला की

दूसरी घटना सिटी कोतवाली क्षेत्र की है। गरियाबंद के वार्ड क्रमांक 2 की रहने वाली देवकी डोंगरे की करंट लगने से मौत हो गई है। कोतवाली से मामले की जांच के लिए नियुक्त उपनिरीक्षक मनीष यादव ने कहा कि आंगन में लोहे का तार कपड़ा सुखाने के लिए लगाया गया है, जिसे जाम के पेड़ से बांधा गया था।

वहीं से घर में हुए करेंट सप्लाई सका तार गुजरा हुआ है। बारिश की वजह से नमी थी। कपड़ा सुखाने के दरम्यान करंट लगने से देवकी डोंगरे की मौत हो गई, जबकि सुमन डोंगरे घायल हो गई थी। जिसका उपचार गरियाबंद अस्पताल में किया जा रहा है। करंट कैसे फैला उसकी जांच के लिए बिजली विभाग को पत्र लिखा जा रहा है।

Read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001 29 IAS-IPS

Advertisements
Show More
Back to top button