छत्तीसगढ़जुर्मस्लाइडरस्वास्थ्य

गरियाबंद BREAKING: किडनी पीड़ित सुपेबेड़ा में एक और मौत, अब तक 92 लोगों की निकल चुकी अर्थी, फिर भी नहीं पहुंचा साफ पानी

गिरीश जगत, गरियाबंद। छत्तीसगढ़ के गरियाबंद के सुपेबेड़ा से बड़ी खबर है। किडनी पीड़ित सुपेबेड़ा में एक और ग्रामीण की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि एम्स में इलाज चल रहा था। मौत का आंकड़ा बढ़ कर 92 हो गया है।

इसे भी पढ़ें  गरियाबंद के बदनसीब गांव की कहानी: न जोगी, न रमन और न भूपेश सरकार ने ली सुध, 80 साल से विकास की राह, कमार जनजाति से सिस्टम कर रहा छलावा ?

दरअसल, आज सुपेबेड़ा में किडनी मरीज रमेश लाल क्षेत्रपाल 61 वर्ष की मौत हो गई। इस मौत के साथ आंकड़ा बढ़ कर 92 हो गया है। रमेश पिछले तीन साल से किडनी की बिमारी से जूझ रहा था। एम्स के डॉक्टरों के देख रेख में उपचार जारी था। दो दिन पहले ही मरीज एम्स से लौटा था।

इसे भी पढ़ें- Neha Malik New Sexy Video: नेहा मलिक ने बेडरूम में बनाया हॉट वीडियो, सेक्सी अदाएं देखकर फैंस हुए पानी-पानी

28 अक्टूबर को रेफर किया गया

बीएमओ डॉक्टर सुनील रेड्डी ने भी बताया की मृतक किडनी बिमारी से पीड़ित था। 28 अक्टूबर को रेफर किया गया था। इलाज छोड़ कर परिवार 6 नवंबर को वापस आ गया था।

इसे भी पढ़ें- Monalisa New Sexy Video: एक्ट्रेस मोनालिसा ने कातिलाना हुस्न का बिखेरा जलवा, बोल्डनेस देख फैंस की फूली सांसें

इलाज के बीच में वापस ले आए परिजन

उन्होंने बताया कि बार बार उन्हें हिमो डायलिसिस के लिए कहा जा रहा था। डॉक्टर के सलाह के विरूद्ध पीड़ित परिवार इलाज के दरम्यान वापस ले आए। मौत का वास्तविक कारण क्या है हिस्ट्री लेकर ही बता पाएंगे।

इसे भी पढ़ें- बर्थडे पार्टी में डांस कर रही थीं बार बालाएं, स्टेज पर पहुंचकर युवक ने कर दी फायरिंग

गुस्से में हैं सुपेबेडा के ग्रामीण

इस चुनावी साल में सुपेबेडा के ग्रामीण सरकार से नाराज हैं।ग्रामीण प्रभुलाल नेताम, गजानंद सोनवानी समेत अन्य ग्रामीणों का आरोप है कि पिछली भाजपा सरकार ने मुआवजा दिया था, लेकिन अब की सरकार ने तेल नदी का साफ पानी देने का वादा कर पांच साल में नहीं दे पाई। गांव में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोला गया पर डॉक्टर और भवन की व्यवस्था नही किया गया।

Read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001 29 IAS-IPS

Advertisements
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
%d bloggers like this: