छत्तीसगढ़

Rahul Gandhi Nyay Yatra in Chhattisgarh: हसदेव अरण्य प्रभावितों से मिलेंगे राहुल गांधी, छ्त्तीसगढ़ में 5 दिन चलेगी न्याय यात्रा

Rahul Gandhi Nyay Yatra in Chhattisgarh: हसदेव अरण्य क्षेत्र के घने जंगल में कोयला जमा क्षेत्र में पेड़ों की कटाई को कांग्रेस बड़ा राजनीतिक मुद्दा बनाने की तैयारी में है. पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा के छत्तीसगढ़ पहुंचने से पहले कांग्रेस पार्टी इस मामले को भुनाने की कोशिश में है. अपने दौरे के दौरान राहुल गांधी हसदेव अरण्य के प्रभावित गांवों में ग्रामीणों से मुलाकात करेंगे.

14 जनवरी से शुरू हुई यह भारत जोड़ो न्याय यात्रा करीब एक महीने बाद छत्तीसगढ़ में प्रवेश कर सकती है. संभावना है कि यह यात्रा 18 फरवरी के आसपास रायगढ़ से राज्य में प्रवेश करेगी. 5 दिनों तक चलने वाली इस यात्रा में राहुल सोनभद्र से बलरामपुर होते हुए उत्तर प्रदेश में प्रवेश करेंगे.

न्याय यात्रा का अंतिम पड़ाव सरगुजा

भारत जोड़ो न्याय यात्रा कुल 5 दिनों तक छत्तीसगढ़ में रहेगी. छत्तीसगढ़ में इस यात्रा का आखिरी पड़ाव सरगुजा होगा. कांग्रेस पार्टी सरगुजा और आसपास के इलाकों में यात्रा के लिए बेहतर माहौल बनाने की कोशिश कर रही है. हसदेव अरण्य के प्रभावित गांवों में राहुल गांधी की ग्रामीणों से मुलाकात के बाद कांग्रेस अपने आंदोलन को व्यापक बना सकती है.

छत्तीसगढ़ के इन जिलों से होकर गुजरेगी यात्रा

राहुल गांधी की यात्रा ओडिशा से होते हुए रायगढ़ में प्रवेश करेगी. रायगढ़, सक्ती, जांजगीर-चांपा, कोरबा, अंबिकापुर, सूरजपुर और बलरामपुर वे 7 जिले हैं, जहां से यात्रा गुजर सकती है। हालाँकि, छत्तीसगढ़ के लिए अंतिम रोडमैप आना बाकी है।

4 लोकसभा की यात्रा तय करेगी

राहुल का यह दौरा लोकसभा से ठीक पहले हो रहा है. ऐसे में यात्रा का फोकस ज्यादा से ज्यादा लोकसभा सीटों को कवर करना है. यह यात्रा छत्तीसगढ़ की रायगढ़, जांजगीर, कोरबा और सरगुजा लोकसभा सीटों से होकर गुजर सकती है. राहुल देशभर की 100 लोकसभा सीटों पर यात्रा करने वाले हैं.

Read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001 29 IAS-IPS

Advertisements
Show More
Back to top button