जुर्मनई दिल्लीवीडियोस्लाइडर

BJP मंत्रीजी की बदतमीजी का VIDEO: केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा पत्रकारों को मारने दौड़े, कहा- फोन बंद कर बे, अब मंत्री को दिल्ली बुलावा

यूपी। लखीमपुर खीरी हिंसा में बेटे आशीष के खिलाफ हत्या की धाराओं में केस दर्ज होने के बाद उनके पिता केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी ने आपा खो दिया. अजय मिश्रा बुधवार को लखीमपुर में मदर चाइल्ड केयर सेंटर में ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन करने गए थे. इसी दौरान जब एक टीवी पत्रकार ने सवाल किया तो अजय मिश्रा ने उसे धक्का दे दिया और अपशब्द भी कहे. बताया जा रहा है कि भाजपा हाईकमान ने अजय मिश्रा को दिल्ली बुला लिया है.

रिपोर्टर को धमकाते रहे मंत्री अजय मिश्रा
दरअसल, रिपोर्टर मंत्री जी से SIT जांच के बारे में सवाल कर रहा था। इसी पर अजय मिश्रा भड़क उठे. रिपोर्टर से बोले, “तुम्हारा दिमाग खराब है क्या बे. जिस काम से आए हो, उसके बारे में बात करो। पहले अपना फोन बंद कर.” मंत्री जी यहीं नहीं रुके। रिपोर्टर को धमकाया भी और धक्का भी दिया। रिपोर्टर ने फिर सवाल पूछा तो मारने के लिए दौड़ पड़े.

MP ELECTION BREAKING: मध्य प्रदेश पंचायत चुनाव को लेकर बड़ी खबर, जानें सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा ?

राहुल गांधी बोले- अजय मिश्रा का इस्तीफा तो होना चाहिए
संसद में आज लखीमपुर खीरी हिंसा मामले पर जोरदार हंगामा हुआ। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा कि SIT की रिपोर्ट के बाद हम इस मामले को सदन में उठाना चाहते हैं। हमने कहा है कि इस पर कम से कम संसद में चर्चा तो होनी चाहिए, लेकिन चर्चा की अनुमति नहीं मिल रही है। मंत्री (अजय मिश्रा टेनी) का इस्तीफा तो होना ही चाहिए। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मंत्री से सवाल किया है कि पत्रकार रमन शुक्ला की मौत पर उनके माता-पिता के सवालों का जवाब दो।

MP पंचायत चुनाव आरक्षण केस: आरक्षण को लेकर सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिका पर बड़ी खबर, जानिए महत्वपूर्ण बातें

अजय मिश्रा ने कहा था- बेटा दोषी हुआ तो इस्तीफा दे दूंगा

मंत्री टेनी ने इससे पहले मीडिया से बातचीत करते हुए कहा था कि यदि उनका बेटा इस मामले में दोषी साबित हुआ तो वे पद से इस्तीफा दे देंगे। मंगलवार को कोर्ट ने भी SIT के उस आवेदन को मंजूर कर लिया, जिसमें मंत्री के बेटे व उसके साथियों के खिलाफ हत्या की साजिश का मामला चलाए जाने की बात कही गई थी।

छात्रा का हाथ तोड़ने वाला हेडमास्टर सस्पेंड: क्लास की खिड़की से हेलीकॉप्टर देख रही थी 5वीं की स्टूडेंट, लोहे की स्टिक से पीटा था

ये हैं लखीमपुर खीरी हिंसा के आरोपी

आशीष मिश्र ‘मोनू’, लवकुश, आशीष पांडे, शेखर भारती, अंकित दास, लतीफ उर्फ काले, शिशुपाल, नंदन सिंह बिष्ट, सत्यम त्रिपाठी, सुमित जायसवाल, धर्मेंद्र बंजारा, रिंकू राना और उल्लास उर्फ मोहित। इन सभी के खिलाफ हत्या और हत्या की साजिश का केस दर्ज किया गया है।

read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001 29 IAS-IPS

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button