जुर्ममध्यप्रदेशस्लाइडर

शहडोल ब्रेकिंग न्यूज: बम ब्लास्ट मामले में NIA की छापेमारी, पटाखा कारोबारी की हो रही तलाश, नक्सल IED ब्लास्ट से हुई थी कई मौतें

शहडोल । झारखंड में नक्सली हमले की जांच में रांची की NIA टीम ने गुरुवार को मध्य प्रदेश में छापेमारी की. कटनी में एक आरोपी की तलाश के बाद शाम को NIA शहडोल जिले के ब्योहारी कस्बे में पहुंची. इधर NIA को विस्फोट में प्रयुक्त विस्फोटक सामग्री और इसे बेचने वाले व्यापारी की तलाश थी.

अनूपपुर में मंत्री जी के बिगड़े बोल ! बिसाहूलाल सिंह बोले- ठाकुर-ठकारों की महिलाओं को घर से पकड़-पकड़ बाहर निकालो, देखिए ये VIDEO

ब्योहारी में गुरुवार देर शाम तक रांची की एनआईए के हाथ खाली रहे, लेकिन वह स्थानीय पुलिस की मदद से पटाखा कारोबारी की तलाश में जगह-जगह छापेमारी करता रहा. सूत्रों से मिली पुष्ट जानकारी के अनुसार NIA ने कटनी से एक आरोपी को हिरासत में लिया है.

अनूपपुर में खनन माफिया की खैर नहीं ! सोन नदी का सीना छलनी करने वाले रेत माफिया पर कलेक्टर ने ठोका 6 लाख का जुर्माना, कई माफिया शॉर्ट लिस्टेड

उसने पूछताछ में बताया है कि उसने आईडी ब्लास्ट में प्रयुक्त विस्फोटक सामग्री का कुछ हिस्सा बुहारी से भी खरीदा था. जांच के इन्हीं बिंदुओं के आधार पर एनआईए की टीम कार्रवाई में जुटी है.

पुष्पराजगढ़ में भ्रष्टाचार का गुनहगार कौन ? विकास के दावे खोखले, सरपंच-सचिव और इंजीनियर निर्माणकार्य में लगा रहे पलीता, मनरेगा में भी ठेकेदारी हॉवी !

एनआईए रांची के एसपी डॉ. शैलेंद्र मिश्रा ने इस संबंध में शहडोल पुलिस से मदद के लिए पत्र लिखकर कहा कि जब उनकी टीम वहां पहुंची तो स्थानीय पुलिस उनकी मदद करे, जिसके बाद भरत मीणा के नेतृत्व में NIA की टीम शहडोल पहुंची.

24 मार्च को टोकला में हुआ था आइडी ब्लास्ट

झारखंड के रांची जिला अंतर्गत टोकला चाईबासा रेस्ट सिंघबम क्षेत्र में 24 मार्च को एक बम ब्लास्ट हुआ था, जिसमें कई लोगों की मौत हुई थी तो वहीं कई गंभीर रूप से घायल थे. एनआइए की टीम इसी मामले में जांच करते हुए मध्यप्रदेश में दबिश दे रही है.

मध्यप्रदेश से हुई थी विस्फोटक सामग्री की सप्लाई

बताया जा रहा है कि झारखंड में जो बम ब्लास्ट हुआ था उसमें इस्तेमाल की गई विस्‍फोटक सामग्री मध्यप्रदेश से आई थी. इस बात का खुलासा रांची की एनआइए टीम की जांच में हुआ है. कटनी में इस बात का सुराग मिलते ही टीम ब्यौहारी पहुंचकर विस्फोटक सामग्री की बिक्री करने वाले व्यापारी की तलाश में जुट गई है.

पुष्पराजगढ़ में भ्रष्टाचार का गुनहगार कौन ? विकास के दावे खोखले, सरपंच-सचिव और इंजीनियर निर्माणकार्य में लगा रहे पलीता, मनरेगा में भी ठेकेदारी हॉवी !

read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button