नौकरशाहीमध्यप्रदेशस्लाइडर

‘मैं 25 गालियां दूंगा, मेरे से तमीज से रहना’: MP में SDM ने किसानों को दी गालियां, कलेक्टर ने मांगा स्पष्टीकरण

SDM abused farmers in MP’s Ratlam: मध्यप्रदेश के रतलाम जिले के जावरा एसडीएम अनिल भाना का किसानों से दुर्व्यवहार का वीडियो सामने आया है। किसान उनसे कह रहे हैं कि साहब, गलत शब्द मत बोलिए। प्यार और स्नेह से बात करें। SDM कहते हैं कि ‘मैं 25 गालियां दूंगा। मेरे से तमीज से रहना। मुझे जानते नहीं हो।’ एक किसान से उन्होंने यह तक कहा, ‘समझ नहीं आएगा, कहां जाएगा।’

दरअसल, सोमवार को बड़ायला चौरासी के किसानों ने यहां रेलवे, गुड्स यार्ड और एप्रोच रोड के दोहरीकरण का काम रोक दिया था। वे अधिक मुआवजे और नये अंडरपास की मांग कर रहे थे। रेलवे अधिकारियों के साथ एसडीएम उन्हें समझाने पहुंचे थे।

कलेक्टर ने एसडीएम मांगा स्पष्टीकरण

इस मामले में रतलाम कलेक्टर भास्कर लाक्षाकार का कहना है कि एसडीएम से स्पष्टीकरण मांगा जाएगा। एडीएम को जांच के लिए कहा गया है।

एसडीएम ने कहा- कोई दुर्व्यवहार नहीं किया गया

एसडीएम अनिल भाना का कहना है कि ‘मैंने किसी भी तरह का दुर्व्यवहार नहीं किया। मेरे साथ रेलवे स्टाफ भी था। जब मैंने किसानों को समझाया तो वे गाली-गलौज करने लगे। वहां गांव का सरपंच भी था। मुआवजा भी दोगुना दिया जा रहा है। जो वीडियो सामने आया है उससे पहले जरूर कुछ हुआ होगा।

किसानों ने रेलवे का काम रोका

बड़ायला चौरासी में रतलाम-नीमच रेलवे लाइन का दोहरीकरण हो रहा है। इसके लिए माल यार्ड को जावरा से 9 किमी दूर बड़ायला चौरासी में शिफ्ट किया जा रहा है। रेलवे ने गुड्स यार्ड के दोहरीकरण और वहां बनने वाली एप्रोच रोड के लिए बड़ायला चौरासी के 27 किसानों की जमीन अधिग्रहित की है। किसानों ने गांव में काम बंद कर दिया है।

Read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001 29 IAS-IPS

Advertisements
Show More
Back to top button