जुर्मट्रेंडिंगमध्यप्रदेशस्लाइडर

डिंडौरी में SDM का खौफनाक कत्ल : हत्यारे पति ने मुंह दबाकर मार डाला, खून से सने कपड़ों को धोकर सुखाया, जानिए निशा नापित की मर्डर मिस्ट्री

गणेश मरावी,डिंडौरी। मध्यप्रदेश के डिंडौरी जिले में रविवार को अचानक महिला एसडीएम निशा नापित की मौत हो गई है। एसडीएम की अचानक मौत होने की खबर लगते ही क्षेत्र में सनसनी फैल गई। डीआईजी मुकेश श्रीवास्तव ने प्रेसवार्ता आयोजित कर 24 घंटे के अंदर महिला एसडीएम की मौत मामले में चौंकाने वाला खुलासा किया है। बताया गया कि पति और पत्नी एसडीएम के सर्विस बुक, बीमा और बैंक खाता में नाॅमिनी नहीं होने को लेकर अक्सर विवाद होता रहता था। इसी बात को लेकर आरोपी पति ने एसडीएम पत्नी को मुंह और नाक में तकिया दबाकर मार डाला। वहीं साक्ष्य को छिपाने के लिये खून से सने कपड़ों को धुलकर सुखा दिया। फिलहाल पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया है और शव का पोस्टमार्टम कर परिजनों को सौंप दिया गया है।

ये है पूरी घटना

डिंडौरी जिले के शहपुरा तहसील में पदस्थ महिला एसडीएम निशा नापित पति मनीष शर्मा को रविवार की दोपहर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में उपचार के लिये भर्ती कराया गया था, लेकिन उसकी अस्पताल में भर्ती कराने से ही मौत हो गई थी। डॉक्टर रत्नेश द्विवेदी द्वारा बताया गया कि मृतिका निशा नापित को मृत अवस्था में अस्पताल लाया गया था। उस दौरान एसडीएम के मुंह और नाक से खून निकल रहा था।

आरोपी पति,

शादी डाॅट काॅम से हुई थी शादी

बताया गया कि एसडीएम की मनीष शर्मा निवासी ग्वालियर से शादी डॉट कॉम के माध्यम से जान पहचान हुई थी। एसडीएम निशा नापित और मनीष शर्मा दोनों ने 3 अक्टूबर 2020 को गायत्री मंदिर मंडला में शादी किये थे।

नाॅमिनी को लेकर होता था विवाद

बताया गया कि मृतिका निशा नापित एसडीएम के द्वारा अपने सर्विस बुक, बीमा, बैंक खाता में अपने पति मनीष शर्मा का नाॅमिनी के रूप में नाम दर्ज नहीं कराई थी। जिसके चलते दोनों के बीच अक्सर विवाद होता रहता था।

एसडीएम निशा नापित

तकिया से गला दबाकर की हत्या

बताया गया कि घटना स्थल निरीक्षण, गवाहों के कथन, पीएम रिपोर्ट, अन्य साक्ष्यों के आधार पर मनीष शर्मा के द्वारा 28 जनवरी 2024 के करीबन 4 बजे के पूर्व में एसडीएम निशा नापित के मुहं नांक में तकिया से दबाकर हत्या किया गया है।

साक्ष्य छिपाने का प्रयास

आरोपी पति के द्वारा पत्नी की हत्या कर साक्ष्य को छिपाने का प्रयास किया था। पति ने खून से सने कपड़ो को वासिंग मशीन में धुलने के लिये डाल दिया और कुर्ती अन्य कपड़ों को धुलकर प्रागंण में सुखा दिया था।

20 हजार रूपये नगद इनाम की घोषणा

24 घण्टे के अंदर एसडीएम निशा नापित की सनसनी खेज हत्या का खुलासा किया गया है। जिसके लिये डीआईजी बालाघाट मुकेश श्रीवास्तव के द्वारा पुलिस विवेचना में लगे अधिकारी/कर्मचारी को बीस हजार रूपये नगद इनाम की घोषणा की है।

विवेचना में इनकी रही भूमिका

थाना शहपुरा पुलिस थाना प्रभारी निरी. शिवलाल मरकाम ,स्टॉफ व उनि, मनोज त्रिपाठी थाना मेहंदवानी सउनि संतोष यादव ,चैकी प्रभारी विक्रमपुर और एफएसएल की टीम के सहयोग अंधी हत्या का खुलासा किया गया है।

प्रेसवार्ता में ये रहे मौजूद 

प्रेसवार्ता के दौरान पुलिस डीआईजी बालाघाट मुकेश कुमार श्रीवास्तव,पुलिस अधीक्षक अखिल पटेल,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जगन्नाथ मरकाम,अपर कलेक्टर सरोधन सिंह समेत अन्य पुलिस बल मौजूद रहे।

Read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001 29 IAS-IPS

Advertisements
Show More
Back to top button