छत्तीसगढ़स्लाइडर

क्या DMF फंड में हुआ है खेला ? बिलासपुर, मुंगेली और इन जिलों के DEO ने नहीं दी रिपोर्ट, जेडी ने थमाया नोटिस, लटकी कार्रवाई की तलवार

Issue of DMF fund expenditure raised in Chhattisgarh Assembly: छत्तीसगढ़ विधानसभा में सवाल उठने के बाद 4 जिलों के डीईओ ने जानकारी नहीं दी है। इसे लेकर संभागीय संयुक्त संचालक आरपी आदित्य ने चारों जिले के DEO को नोटिस थमा दिया है। सवालों की समय पर जानकारी नहीं देने पर अब कार्रवाई की तलवार लटक रही है।

Issue of DMF fund expenditure raised in Chhattisgarh Assembly: संभागीय संयुक्त संचालक आरपी आदित्य ने बिलासपुर, मुंगेली, रायगढ़ और कोरबा के जिला शिक्षा अधिकारियों को नोटिस भेजा है। इन सभी को तीन दिन के भीतर जवाब देने को कहा गया है। मामला डीएमएफ फंड से स्कूलों में कराए गए काम से जुड़ा है।

इन जिलों के DEO ने दी जानकारी

Issue of DMF fund expenditure raised in Chhattisgarh Assembly: दरअसल, विधानसभा सत्र में विधानसभा अनुपूरक प्रश्न क्रमांक 640 में डीएमएफ फंड से जिलेवार स्कूलों में हुए खर्च की जानकारी मांगी गई थी। 5 फरवरी तक केवल सक्ती, जांजगीर-चांपा, सारंगढ़-बिलाईगढ़ और गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले ने ही जानकारी दी है।

राजेश मूणत ने उठाए थे सवाल

Issue of DMF fund expenditure raised in Chhattisgarh Assembly: बता दें कि रायपुर पश्चिम विधायक राजेश मूणत ने बिलासपुर संभाग के स्कूलों में स्कूल शिक्षा विभाग को मिलने वाली राशि को लेकर सवाल उठाया था। इसमें उन्होंने पूछा है कि 1 जनवरी 2021 से 30 नवंबर 2023 तक शिक्षा विभाग को डीएमएफ से कितनी राशि प्राप्त हुई।

कितना खर्च हुआ और कितना बाकी है ?

Issue of DMF fund expenditure raised in Chhattisgarh Assembly: कितना खर्च हुआ और कितना बाकी है? इसके साथ ही किस फर्म को कितनी राशि में स्कूलों में फर्नीचर उपलब्ध कराने का आदेश दिया गया ? यदि इसकी शिकायत हुई तो क्या कार्रवाई की गई ?

Read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001 29 IAS-IPS

Advertisements
Show More
Back to top button