नौकरशाहीमध्यप्रदेशस्लाइडर

CM के निर्देश का गला घोंट रहे जिम्मेदार: डिंडोरी में प्रतिबंधित क्षेत्र में धड़ल्ले से बिक रही देशी-विदेशी शराब, आंख पर पट्टी बांध शिकायत का इंतजार कर रहा आबकारी विभाग

रोक लगाने महिला कांग्रेस ने कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा

गणेश मरावी,डिंडौरी। मध्यप्रदेश के डिंडौरी जिले में जिम्मेदार सीएम के निर्देश का गला घोंटते नजर आ रहे हैं। यहां पर सीएम के निर्देश की खुलेयाम धज्जियां उड़ाई जा रही है। दरअसल जिले भर में शराब ठेकेदार के गुर्गों द्वारा बेखौफ होकर अवैध शराब की खेप पहुंचाई जा रही है, जिला मुख्यालय समेत आस पास के क्षेत्रों में अवैध देशी विदेशी मदिरा की विक्रय धड़ल्ले से किया जा रहा है।

इतना ही नहीं शराब कारोबारी नर्मदा तटीय क्षेत्रों में भी शराब बेचने पैर जमाये हुए हैं। जबकि नर्मदा नदी से 5 किलो मीटर के दायरे में शराब बेचना प्रतिबंधित है। उसके बाद भी आबकारी विभाग के अधिकारी कर्मचारियों के हाथ इन अवैध शराब की बिक्री के ठिकानों तक नहीं पहुंच पा रही है। जिले भर में बिक रही अवैध शराब की बिक्री व परिवहन पर रोक लगाने की मांग को लेकर महिला कांग्रेस ने कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा है। महिला कांग्रेस ने अवैध शराब पर रोक नहीं लगाने पर आंदोलन करने की चेतावनी दी है।

अवैध शराब की बिक्री पर रोक लगाने की मांग

महिला कांग्रेस ने अवैध देशी विदेशी शराब की बिक्री व परिवहन पर रोक लगाने की मांग को लेकर कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा है। उन्होंने बताया कि जिला मुख्यालय सहित ग्रामीण इलाकों में लंबे समय से शराब ठेकेदार के द्वारा अवैध शराब विक्रय का कारोबार बेरोक टोक कराया जा रहा है।

सीएम के निर्देश की उड़ा रहे धज्जियां

मुख्यमंत्री के द्वारा नर्मदा तटों पर बसे नगरों को तीर्थ स्थल मानते हुये शराब दुकानों को बंद करा दिया गया है, लेकिन पवित्र नगरी जिला मुख्यालय डिंडौरी में दर्जनों पान ठेलों और खोमचों में दिन दहाड़े विदेशी शराब का विक्रय खुलेआम किया जा रहा है।

तमाशबीन बने है आबकारी अधिकारी

उन्होंने आरोप लगाया है कि जिला मुख्यालय में ही धड़ल्ले से बेखौफ होकर शराब माफिया के द्वारा अवैध कारोबार कर रहे है तो ग्रामीण क्षेत्रों में किस कदर शराब माफिया हाबी है। इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है, लेकिन अवैध शराब के विक्रय और परिवहन पर रोक लगाने वाले आबकारी महकमा जानबूझकर आंख बंद कर तमाशबीन बने हुए है।

परिवारों में प्रतिदिन बढ़ रहे विवाद

महिला कांग्रेस जिला अध्यक्ष संतोषी रामजी साहू ने कहा कि आबकारी विभाग के अधिकारियों की मेहरबानी से ठेकेदार के होसले बुलंद है। ठेकेदार के गुर्गे प्रतिदिन शराब की खेप भारी मात्रा में पहुंचा रहे है। गांवों में विदेशी शराब अवैध विक्रय होने व आसानी से शराब उपलब्ध होने के चलते महिलाओं की गृहस्थी उजड़ रही है और अवैध बिक्री के चलते महिलाओं के साथ लड़ाई झगड़े भी बढ़ रहें है।

Read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001 29 IAS-IPS

Advertisements
Show More
Back to top button