छत्तीसगढ़स्लाइडर

छत्तीसगढ़: कैंप और रोड के विरोध में ग्रामीणों ने 48 जगह से काट दी सड़क, पुलिस ने नक्सलियों पर लगाया यह आरोप

बीजापुर। छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले के गंगापुर क्षेत्र में एक बार फिर सड़क काटने का मामला सामने आया है. अक्सर आपने नक्सलियों को सड़क काटते देखा और सुना होगा, लेकिन इस बार गंगालूर और पुशनार होते हुए मिरतुर को जोड़ने वाली निर्माणाधीन सड़क को बुर्जी और पुशनार के ग्रामीणों ने काट दिया है. इस सड़क को ग्रामीणों ने 45 से 48 जगहों से काट दिया है.

स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि सड़क निर्माण को लेकर कई बार सरकार को ज्ञापन सौंपा गया कि अंदरूनी इलाकों में सड़कों का निर्माण ना किया जाए. बावजूद इसके सरकार लगातार अंदरूनी इलाकों में सड़क बनाकर कैंप स्थापित करने का काम जोरों शोरों कर रही है. जिसके विरोध में ग्रामीणों ने कई बार रैली और धरना के माध्यम से प्रदर्शन कर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा था.

जिसके बाद अधिकारियों ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया था कि वे इस बात पर विचार करेंगे. लेकिन अब तक अधिकारियों ने कोई इस बात पर कोई अमल नहीं किया. ग्रामीणों ने सड़क काटकर फोटो और पत्र मीडिया को भी भेजा है. ग्रामीणों का कहना है अगर सड़क उन इलाकों तक बनेगी, तो पुलिस उन तक पहुंचेगी.

उनका कहना है कि पुलिस पहुंचकर उनसे मारपीट करती है. बेवजह घर से पकड़ कर फर्जी प्रकरण बनाकर न्यायालय पेश कर नक्सली बताती है. यही कारण है कि ग्रामीणों ने सड़क काटकर सड़क निर्माण का विरोध जताया है.

छत्तीसगढ़: इस फैक्ट्री में गिरा सेलो टैंक, एक मजदूर की मौत, 4 कर्मचारी गंभीर रूप से जख्मी

एडिशनल एसपी पंकज शुक्ला का कहना है कि जहां सड़क का निर्माण किया गया, वहां नक्सलियों ने सड़क को काट दिया है. नक्सलियों ने ग्रामीणों के साथ मिलकर सड़क काटा है. इसकी जिम्मेदारी ग्रामीणों को लेने को कहा है. जिस कारण ग्रामीण ऐसा कर रहे हैं. बाकी यह कारतूत नक्सलियों की है. जबकि सुरक्षा बल के जवानों द्वारा ग्रामीणों की सुविधा के लिए सड़क का निर्माण किया गया है.

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button