छत्तीसगढ़जुर्ममध्यप्रदेशस्लाइडर

अमरकंटक में साधु की भेष में गांजा खपाने से पहले शख्स गिरफ्तार: छत्तीसगढ़ से सप्लाई करने जा रहा था, GRP ने घेराबंदी कर पकड़ा, जानिए कितना मिला गांजा ?

One person arrested in Bilaspur for consuming ganja in Amarkantak: अनूपपुर जिले के अमरकंटक में गांजे की सप्लाई करते साधु की भेष में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। दुर्ग के गांजा तस्कर को गुरुवार को बिलासपुर में जीआरपी ने पकड़ा है। उसके बैग में 6 किलो गांजा था।

गांजे को झारसुगुड़ा से ट्रेन में लेकर आया और अमरकंटक ले जाने वाला था। वह प्लेटफार्म के बाहर ट्रेन का इंतजार कर रहा था तभी टीम ने उसे पकड़ लिया। जब्त गांजे की कीमत 1 लाख 20 हजार रुपये बताई जा रही है।

तस्करों पर कार्रवाई के दिए थे निर्देश

रेलवे एसआरपी जेआर ठाकुर ने सभी जीआरपी प्रभारियों के साथ-साथ एंटी क्राइम टीम को ट्रेनों पर कड़ी निगरानी रखने और तस्करों को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए है। गुरुवार को उनके निर्देश पर एंटी क्राइम टीम प्लेटफार्म पर निगरानी कर रही थी।

पुलिस ने गतिविधियों पर रखी नजर

इसी दौरान साधु वेशधारी एक व्यक्ति को प्लेटफार्म नंबर 6 की ओर जाते देखा। टीम ने उसकी गतिविधियों पर नजर रखनी शुरू कर दी। आरोपी कटनी मार्ग के आउटर पर जाकर बैठ गया।

बैग में 6 किलो गांजा मिला

आरोपी के हावभाव और बैग देखकर टीम को शक हुआ तो उसके पास जाकर पूछताछ की। उसके बैग की तलाशी लेने पर उसमें 6 किलो गांजा मिला, जिसे टीम जब्त कर जीआरपी थाने ले आई।

गांजा खपाने जा रहा था अमरकंटक

आरोपी से पूछताछ में पता चला कि हरिदास बैरागी (60 वर्ष) दुर्ग जिले के कुम्हारी का रहने वाला है। उसने जीआरपी को बताया कि वह झारसुगुड़ा से गांजा लेकर बिलासपुर स्टेशन पर ट्रेन से उतरा। यहां से वह गांजा लेकर अमरकंटक जा रहा था और ट्रेन का इंतजार कर रहा था। जीआरपी ने उसके खिलाफ धारा 20 (बी) एनडीपीएस एक्ट के तहत अपराध दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।

Read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001 29 IAS-IPS

Advertisements
Show More
Back to top button