नौकरशाहीमध्यप्रदेशस्लाइडर

डिंडौरी में ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ में अधिकारी व्यस्त: कई निर्माण कार्यों पर भ्रष्टाचार, जांच और कार्रवाई पर लगा ग्रहण

गणेश मरावी,डिंडौरी। विकसित भारत संकल्प यात्रा के तहत पूरे देश में सरकार की योजनाओं को अंतिम छोर तक पहुंचाने और लाभ देने के उद्देश्य से भाजपा कार्यकर्ता और अधिकारी कर्मचारी गांव – गांव पहुंच रहे हैं। अधिकतर अधिकारी – कर्मचारी विकसित भारत संकल्प यात्रा में व्यस्त है। इस यात्रा के बीच तमाम प्रकार की निर्माण कार्य कराये जा रहें है, जिनकी माॅनरिटिंग के अभाव में भ्रष्टाचार में तब्दील हो रहें है। इस दौरान जिम्मेदारों के द्वारा सप्लायर के सांथ सांठ – गांठ कर मापदंडों को दरकिनार करते हुए मनमानी पूर्वक घटिया सामग्री का उपयोग कर घटिया निर्माण करा रहे हैं।

विकसित भारत यात्रा में व्यस्त हैं अधिकारी

डिंडौरी जिले में इन दिनों मनरेगा योजना समेत अन्य योजनाओं के तहत चैकडेम, पुलिया, सड़क समेत कई निर्माण कार्य कराये जा रहे हैं। जिन निर्माण कार्यों में पत्थर,मिटटीयुक्त गिट्टी और घटिया रेत का मिश्रण कर गुणवत्ताविहीन कराया जा रहा है। यहां पर मापदंडो के विपरीत हो रहे निर्माण कार्य से संबंधित अधिकारी कर्मचारियों से चर्चा की जाती है, तो उनका एक ही कहना होता है कि अभी विकसित भारत संकल्प यात्रा में व्यस्त हैं। यहां से फुर्सत होने के बाद जांच की जायेगी।

निर्माण कार्यों की जांच और कार्रवाई पर लगा ग्रहण

विकसित भारत यात्रा के दौरान कई निर्माण कार्य कराये जा रहें है। जिन पर निर्माण ऐजेंसी के द्वारा मनमानी पूर्वक मापदंडों के विपरीत कराया जा रहा हैं, लेकिन इस बीच हो रहे घटिया निर्माण कार्य को लेकर संबंधित विभाग के अधिकारी – कर्मचारी से चर्चा करने पर विकसित भारत यात्रा में व्यस्त रहने का हवाला दे रहे हैं। अब ऐसे में सवाल ये उठ रहा है कि निर्माण कार्य के दौरान न जांच होगी और न ही कार्रवाई की जायेगी। ऐसे में भ्रष्टाचार करने वाले खुलेयाम घटिया सामग्री से निर्माण कार्य करा लाखों रुपए बंटाधार कर रहे है।

विकसित भारत यात्रा का बहाना या अभयदान

विकसित भारत यात्रा के तहत जिले में भर में शिविर आयोजित की जा रही है। इस दौरान निर्माण कार्य भी जोरों से चल रहा है, जिन निर्माण कार्यों में जमकर भ्रष्टाचार का कहर मचा है। इस बीच ये भी चर्चा है कि सरकार द्वारा चलाये जा रहे विकसित भारत यात्रा जरूरी है, पर निर्माण कार्यों में भी ध्यान देना अत्यंत आवश्यक है, लेकिन निर्माण कार्य के दौरान जांच न होना न ही गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ़ कार्रवाई की जाती है या फिर यूं कहा जाये कि कार्रवाई न करना पड़े इसलिये भारत यात्रा का बहाना बना रहे हैं। ये समझ से परे है।

Read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001 29 IAS-IPS

Advertisements
Show More
Back to top button