छत्तीसगढ़स्लाइडर

मुंगेली में आखिर 1 बजे रात क्या हुआ ? अचानक धमक पड़े SP और कलेक्टर, जानिए थाने में एंट्री की सीक्रेट कहानी ?

नईम खान, मुंगेली: छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले में पदस्थ एसपी चंद्रमोहन सिंह और कलेक्टर राहुल देव अचानक आधीरात जरहागांव थाने में धमक पड़े। 1 बजे औचक निरीक्षण के तहत जरहागांव थाना पहुंचे, जहां दोनों अफसरों ने थाने का निरीक्षण किया। जरहागांव थाना प्रभारी नन्दलाल पैकरा को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस दौरान कलेक्टर ने थाने की कार्रवाई और नए कानून के संबधं में भी चर्चा की।

इस दौरान कलेक्टर और SP ने थाना प्रभारी से थाने में कई सवाल जवाब किए। साथ ही तेज रफ़्तार वाहन चालकों पर कार्रवाई, चालानी कार्रवाई, रात में घूमने वाले संदिग्ध लोगों से पूछताछ और शहर के गली-मोहल्लों में गश्त के निर्देश दिए।

क्या है विजिबल पुलिसिंग ?

विजिबल पुकिसिंग के अंतर्गत बीती रात जिले के सभी थाना-चौकी क्षेत्र में औचक कांबिंग गश्त की गई। इस दौरान तेज रफ़्तार वाहन चालकों को समझाइश दी गई। साथ ही चालानी कार्रवाई की गई। इसके अलावा रात में घूमने वाले संदिग्ध लोगों से भी पूछताछ की गई। शहर के गली मोहल्लों और महत्वपूर्ण स्थानों पर पैदल गश्त की गई।

जिले में अपराध में आई कमी

इसके अलावा अपराधों के रोकथाम के लिए एसपी चंद्रमोहन सिंह और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रतिभा पांडेय के निर्देश पर लगातार जिले के सभी क्षेत्र में कांबिंग गश्त की कार्रवाई की जा रही है, जिससे जिले में अपराध में कमी आई है।

कलेक्टर-एसपी के बीच अच्छा तालमेल

आधी रात यूं तो जिले के प्रशासन एवं पुलिस के मुखिया का एक साथ किसी एक जगह पर जाना आम बात नही हैं, लेकिन जिले के कलेक्टर राहुल देव (IAS) और एसपी चंद्रमोहन सिंह (IPS) दोनो के बीच अच्छा सामंजस्य है। यह बताना इसलिए भी जरूरी है, क्योंकि एसपी चंद्रमोहन सिंह 2014 बैच के IPS अफसर हैं, जबकि कलेक्टर राहुल देव 2016 बैच के IAS अफसर हैं।

Read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001 29 IAS-IPS

Advertisements
Show More
Back to top button