छत्तीसगढ़जुर्मस्लाइडर

कांग्रेस नेता ने कराई BJP नेता की हत्या: 7 लाख में दी सुपारी, कत्ल के थे 12 किरदार, जानिए बीच सड़क क्यों गोलियों से भूना ?

Inside story of murder of Kanker BJP District Vice President Asim of Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले के बीजेपी जिला उपाध्यक्ष की भाड़े के हत्यारों ने गोली मारकर हत्या कर दी. 5 दिन बाद पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा कर दिया. पखांजूर के बीजेपी नेता असीम राय को मारने के लिए एक कांग्रेस नेता और नगर पंचायत अध्यक्ष ने 7 लाख रुपये की सुपारी दी थी. घटना में शामिल 12 आरोपियों में से 11 को गिरफ्तार कर लिया गया है.

कांकेर एसपी दिव्यांग पटेल ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज में दो लोग बाइक से असीम राय का पीछा करते नजर आ रहे हैं. रास्ते में पीछे बैठे आरोपी ने असीम को तमंचे से गोली मार दी और पीवी-32 चौक से डोटोमाटा की ओर भाग गए। शूटर विकास मजूमदार अब भी फरार है. मामला 7 जनवरी की रात 8 बजे पखांजूर थाना क्षेत्र के गढ़चिरौली रोड का है।

आरोपियों ने बताई हत्या की साजिश की कहानी

बाइक सवार और पिस्तौल से फायरिंग करने वाले आरोपी की पहचान पीवी- 82 निवासी विकास तालुकदार के रूप में हुई है। मुखबिर ने खुलासा किया कि विकास तालुकदार को अक्सर पीवी-125 निवासी नीलरतन मंडल के साथ घूमते देखा जाता था। इस सुराग के बाद पुलिस ने नीलरतन मंडल को हिरासत में लिया और उससे सख्ती से पूछताछ की, जिसमें आरोपी ने साजिश की पूरी कहानी बता दी.

कांग्रेस नेता हत्या कराना चाहते थे

नीलरतन मंडल ने बताया कि उसकी मुलाकात मंडल मेडिकल के मालिक पखांजूर निवासी सोमेंद्र मंडल, पीवी-28 निवासी सर्वजीत उर्फ सुरजीत और पीवी-36 निवासी रिपन से हुई थी। इस दौरान तीनों ने बताया कि पखांजूर के कांग्रेस नेता बप्पा गांगुली, विकास पाल और पीवी-28 निवासी जीतेंद्र बैरागी असीम राय की हत्या करना चाहते हैं।

7 लाख रुपये में असीम राय की हत्या की सुपारी

असीम राय की हत्या के लिए नीलरतन ने अपने चचेरे भाई शार्प शूटर विकास तालुकदार और जयंत विश्वास को सोमेंद्र से मिलवाया। असीम राय की हत्या के लिए नीलरतन मंडल, विकास तालुकदार और जयंत विश्वास ने 7 लाख रुपये में असीम राय की हत्या की सुपारी ली थी.

अविश्वास प्रस्ताव और होटल में हत्या का कारण

इस दौरान पुलिस ने सोमेंद्र मंडल को हिरासत में ले लिया. पूछताछ में उसने बताया कि तीन दिसंबर 2024 को सरकार बदलने के बाद कांग्रेस नेता व नगर पंचायत अध्यक्ष बप्पा गांगुली के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया गया था. उनकी कुर्सी खतरे में थी. इसी तरह पार्षद विकास पाल को डर था कि उनके पखांजूर इन होटल का अवैध निर्माण भी तोड़ दिया जाएगा. दोनों ने इसके लिए असीम राय को जिम्मेदार माना.

ठेके की रकम से एक लाख रुपये में पिस्टल खरीदी

पुलिस ने खुलासा किया कि कांग्रेस नेता बप्पा गांगुली, विकास पाल और जितेंद्र बैरागी ने सुपारी देकर असीम की हत्या कराई थी. बप्पा गांगुली और विकास पाल ने हत्या के लिए पैसे का इंतजाम किया था. बप्पा गांगुली और विकास पाल ने सोमेंद्र मंडल के माध्यम से नीलरतन को 7 लाख रुपये भेजे. इस रकम में से करीब एक लाख रुपये में पिस्टल खरीदी गई थी.

हत्याकांड को रेकी कर अंजाम दिया गया था

घटना से पहले जितेंद्र बैरागी ने तपन मंडल और समीत मांझी के साथ मिलकर रेकी की थी. इसके बाद विकास तालुकदार ने अपने साथी गोपीदास के साथ मिलकर हत्याकांड को अंजाम दिया. पुलिस ने पल्सर बाइक, 3 लाख रुपये और हत्या के वक्त पहने हुए कपड़े बरामद कर लिए हैं.

Read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001 29 IAS-IPS

Advertisements
Show More
Back to top button