छत्तीसगढ़

Dog Attack In Bhilai: मां की उंगली पकड़ घर जा रहे बच्‍चे पर टूट पड़ा कुत्तों का झुंड…

भिलाई,Dog Attack In Bhilai:  डॉग बाइट इन भिलाई: छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले के भिलाई के कैंप-2 सर्कुलर मार्केट से अपने माता-पिता के साथ गुजर रहे पांच साल के बच्चे पर कुत्तों के झुंड ने हमला कर दिया. बच्चे की चीख सुनकर आसपास के लोगों ने कुत्तों को भगाने की कोशिश की लेकिन असफल रहे। इस पर पथराव कर कुत्तों को भगाया गया। तब तक कुत्तों ने बच्चे के कूल्हे को दो-तीन जगह काट लिया था। प्रत्यक्षदर्शी के मुताबिक हादसे का शिकार हुआ बच्चा पैदल यात्री था |

घटना सुबह करीब नौ बजे की है

भिलाई निवासी और भाजपा नेता अमर सोनकर ने बताया कि वे कैंप-2 सर्कुलर मार्केट इलाके में टहल रहे थे। इसी दौरान एक परिवार वहां से गुजर रहा था. परिवार संभवत: पावर हाउस की ओर से जवाहर मार्केट होते हुए शारदा परिवार की ओर जा रहा था।

पति-पत्नी और दो बच्चों समेत चार लोग थे। करीब ढाई साल का एक बच्चा अपनी मां की गोद में था और चार-पांच साल का दूसरा बच्चा अपनी मां की उंगली पकड़कर चल रहा था |

पांच साल के बच्चे पर अचानक कुत्तों के झुंड ने हमला कर दिया

इसी दौरान अचानक पीछे से कुत्तों के झुंड ने पांच साल के बच्चे पर हमला कर दिया। कुत्तों के हमला करते ही बच्चा चिल्लाने लगा।

इस दौरान अमर सोनकर समेत आसपास मौजूद लोगों ने कुत्तों को भगाने का प्रयास किया। लेकिन कुत्ते बच्चे को नोचते रहे। स्थिति देख लोगों ने पथराव कर कुत्तों को भगाया। तब तक कुत्ते बच्चे को तीन जगह काट चुके थे।

घटना की शिकायत कमिश्नर से की गई है

अमर सोनकर ने बताया कि इलाके में कुत्तों ने आतंक मचा रखा है। आवारा कुत्तों की धरपकड़ के लिए निगम अधिकारियों को पहले ही सूचित कर दिया गया है। अमर सोनकर ने कहा कि आज हुई घटना के संबंध में तत्काल निगम आयुक्त को सूचित किया गया है और क्षेत्र के लोगों को आवारा कुत्तों से निजात दिलाने की मांग की गयी है.

इलाके के लोगों ने बताया कि बाजार से सटे मटन मीट की दुकान से फेंके गए मांस को खाने के लिए

यहां हमेशा कुत्तों का जमावड़ा लगा रहता है. जिससे बाजार आने वाले लोगों को खतरा बना रहता है। शिकायत के बाद भी यहां कुत्ता पकड़ने वाली टीम नहीं भेजी जाती।

नतीजा यह है कि यहां बड़ी संख्या में आवारा कुत्ते लोगों को परेशान कर रहे हैं। पास में ही बच्चों का मंदिर संचालित होता है। वहां से निकलने वाले बच्चों को हमेशा कुत्तों का डर सताता रहता है।

Advertisements
Show More
Back to top button