छत्तीसगढ़ट्रेंडिंगस्लाइडर

Vishnudev Sai Oath Taking Ceremony: CM विष्णुदेव साय के शपथ ग्रहण की बड़ी बातें, जानिए क्या कुछ रहा खास ?

Vishnudev Sai Oath Taking Ceremony: छत्तीसगढ़ में शपथ ग्रहण समारोह के बाद अब विष्णुदेव साय मंत्रिमंडल के गठन में जुट गए हैं. लेकिन इससे पहले भव्य शपथ ग्रहण समारोह में पीएम नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में सीएम विष्णुदेव ने दो डिप्टी सीएम के साथ पद और गोपनीयता की शपथ ली. राज्यपाल विश्वभूषण हरिचंदन ने अरुण साव और विजय शर्मा के साथ विष्णुदेव साय को शपथ दिलाई. आइये जानते हैं शपथ ग्रहण के बारे में. समारोह की खास बातें.

छत्तीसगढ़ के इतिहास में पहली बार दो डिप्टी सीएम

Two Deputy CMs in history of Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ के इतिहास में पहली बार सीएम के साथ दो डिप्टी सीएम ने शपथ ली है. बीजेपी की ओर से अरुण साव और विजय शर्मा को डिप्टी सीएम बनाया गया है.

चार राज्यों के सीएम रहे मौजूद

CMs of four states were present: शपथ ग्रहण समारोह में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, असम के सीएम हिमंत बिस्वा सरमा, उत्तराखंड के सीएम पुष्कर धामी, गोवा के सीएम प्रमोद सावंत मौजूद रहे।

बीजेपी के दिग्गजों के सामने शपथ ग्रहण समारोह में बीजेपी की जीत में अहम भूमिका निभाने वाले प्रदेश प्रभारी ओम माथुर, सह प्रभारी नितिन नबीन, यूपी के मंत्री और दूसरे राज्यों के नेता भी शामिल हुए. महाराष्ट्र से अंबेडकरवादी पार्टी के नेता और केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले भी शामिल हुए.

पीएम मोदी और पूर्व सीएम बघेल आमने-सामने

PM Modi and former CM Baghel face to face: शपथ ग्रहण समारोह के बाद पूर्व सीएम भूपेश बघेल और पीएम नरेंद्र मोदी आमने-सामने आ गए. पीएम मोदी खुद भूपेश बघेल के पास गए और उनका हालचाल लिया.

डिप्टी सीएम टीएस सिंहदेव भी मंच पर बैठे दिखे

Deputy CM TS Singhdeo was also seen sitting on the stage: डिप्टी सीएम टीएस सिंहदेव भी मंच पर बैठे दिखे. विशेष आमंत्रण पर पूर्व सीएम भूपेश के साथ पूर्व डिप्टी सीएम टीएस सिंहदेव को भी आमंत्रित किया गया था. जिसका सम्मान करते हुए दोनों कांग्रेस नेता बीजेपी के शपथ ग्रहण समारोह में पहुंचे.

छत्तीसगढ़ की महिला नेताओं को भी मंच पर जगह

Women leaders of Chhattisgarh were also given place on the stage: शपथ ग्रहण समारोह में छत्तीसगढ़ की दो महिला नेताओं को भी मंच पर जगह दी गई. जिसमें राज्यसभा सांसद सरोज पांडे और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष लता उसेंडी का नाम था. दोनों महिला नेताओं का नाम रेणुका सिंह के साथ सीएम पद दिया गया. लेकिन रेणुका सिंह विधायकों के साथ अलग मंच पर बैठी नजर आईं.

Read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001 29 IAS-IPS

Advertisements
Show More
Back to top button