जुर्मदेश - विदेशस्लाइडर

UP में बड़ी वारदात: नोएडा से बेंगलेरु जा रहे कैंटेनर में लूट, 8 करोड़ के महंगे मोबाइल फोन पार, MP में मिला खाली वाहन

नई दिल्ली। ग्रेटर नोएडा से मोबाइल फोन की खेप लेकर बेंगलुरु के लिए रवाना हुए कैंटेनर वाहन में सवारी बनकर बैठे दो बदमाशों ने दुस्साहसिक वारदात कर दी. मथुरा के फरह क्षेत्र से बैठे बदमाश मध्य प्रदेश के श्योपुर जिले में चालक को उतारकर वाहन लूट ले गए. कैंटेनर मप्र के आगर जिले में मिला. वाहन में लदे 8990 मोबाइल फोन गायब थे. कंपनी ने इनकी कीमत आठ करोड़ बताई है.

ओप्पो कंपनी के मैनेजर सचिन मानव ने शुक्रवार को मथुरा के फरह थाने में इस मामले में रिपोर्ट दर्ज कराई. रिपोर्ट के मुताबिक, कैंटेनर वाहन में मोबाइल फोन की खेप लेकर चालक मुनीष यादव(मानिकपुर, फर्रुखाबाद) पांच अक्टूबर की सुबह सात बजे बेंगलुरु के लिए रवाना हुआ. फरह थाना क्षेत्र में रैपुराजाट के नजदीक ग्वालियर बाइपास से दो बदमाश सवारी बनकर कैंटेनर में बैठ गए. रात करीब दस बजे झांसी जिले के बबीना टोल से निकलने के बाद दोनों सवारी अपने रंग में आ गई. चालक मुनीष पर चादर डाल दी और उसके सिर पर तमंचे की बट से प्रहार कर जख्मी कर दिया.

ऐसे हुई वारदात की जानकारी

कैंटेनर वाहन में जीपीएस लगा था. वाहन की लोकेशन न मिलने और चालक का मोबाइल फोन स्विच आफ मिलने पर ट्रांसपोर्ट कंपनी मालिक प्रदीप (दिल्ली) को शक हुआ. वाहन की आखिरी लोकेशन नागपुर मिली थी. सात अक्टूबर को प्रदीप नागपुर पहुंचे. आठ अक्टूबर की सुबह प्रदीप के मोबाइल पर काल आई. कालर ने खुद को होटल संचालक(श्योपुर, मप्र) बताया. उसने चालक मुनीष के साथ हुई घटना की जानकारी दी.

मुनीष ने प्रदीप को बताया कि झांसी जिले के बबीना टोल से निकलने के बाद दोनों बदमाशों ने मारपीट कर घायल कर दिया. उसे कुछ पिला दिया. सात अक्टूबर की शाम को होश आया तो खुद को श्योपुर जिले के समारसा गांव में खेत में पड़ा पाया.

खाली वाहन मप्र के आगर जिले के मानपुर थाना क्षेत्र में मिला. सचिन मानव ने बताया कि कैंटेनर में रियलमी और ओप्पो कंपनी के 8990 मोबाइल फोन थे. इनकी कीमत आठ करोड़ रुपये है.

मप्र के श्योपुर जिले के मानपुर थाना प्रभारी शिवराम कंषाना का कहना है कि लूट की वारदात ड्राइवर की मिलीभगत से ही लग रही है. घटना 5 अक्टूबर की रात की बता रहा है. जबकि थाने पर आठ अक्टूबर को आया है. ड्राइवर झूठ बोल रहा है कि वह दो दिन समारसा गांव के पास पड़ा रहा. जबकि वहां आसपास काफी खेत हैं, जहां ग्रामीण काम करते हैं.

MP में 2 सगी बहनों से 3 साल तक रेप: शादी की शर्त पर जेल से छूटे, बाहर आए तो फिर किया दुष्कर्म, जानिए फिर पुलिस ने क्या हुआ ? 

 

इसे भी पढ़ें: ये कैसा पति! पत्नी को पहले दी नींद की गोलियां, फिर कोबरा से डसवा कर की हत्या, पुलिस ने ऐसे सुलझाया मामला

read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001

छत्तीसगढ़ की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
मध्यप्रदेश की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
खेल की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
मनोरंजन की खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button