जुर्ममध्यप्रदेशस्लाइडर

दिनदहाड़े छात्रा का अपहरण: बाइक पर आए दो नकाबपोश बदमाश, 19 साल की छात्रा को जबरन उठा ले गए, वीडियो वायरल

Kidnapping of a student in broad daylight on Monday in Gwalior: मध्यप्रदेश के ग्वालियर में सोमवार को दिनदहाड़े एक छात्रा का अपहरण कर लिया गया। बाइक पर आए दो नकाबपोश बदमाश 19 साल की छात्रा को जबरन उठा ले गए। घटना एक पेट्रोल पंप पर हुई, जो वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। युवती अपने परिवार के साथ भिंड के लहार से ग्वालियर आई थी।

घटना सोमवार सुबह 10 बजे झांसी रोड थाने से 100 कदम दूर नाका चंद्रवदनी प्राइवेट बस स्टैंड के पास पेट्रोल पंप पर हुई। जहां बदमाशों ने छात्र के सामने बाइक खड़ी कर दी। तभी एक बदमाश उतरा और उसे जबरन बाइक पर बैठा लिया। छात्रा ने विरोध किया, लेकिन वहां मौजूद लोगों में से किसी ने उसकी मदद नहीं की। बदमाश लड़की को लेकर विवेकानन्द चौराहे की ओर भाग गए।

छात्रा अपने चाचा के घर गृह प्रवेश समारोह में शामिल होने आई थी।

भिंड के लहार निवासी 19 वर्षीय छात्रा सेवढ़ा कॉलेज में बीए प्रथम वर्ष की छात्रा है। सोमवार को वह अपने चाचा, चाची और परिवार के अन्य सदस्यों के साथ अपने चाचा के घर गृह प्रवेश समारोह में शामिल होने के लिए ग्वालियर आई थी। ये सभी सोमवार सुबह 9.30 से 10 बजे के बीच चंद्रवदनी नाका के पास पेट्रोल पंप पर उतरे थे।

परिवार के लोग बातचीत में व्यस्त थे, तभी बदमाश उन्हें उठा ले गए

चाचा व अन्य परिजन बातचीत में व्यस्त थे। छात्र पानी पीने के लिए पास के पेट्रोल पंप के अंदर चला गया। यहां काली बाइक पर सवार होकर दो नकाबपोश पहुंचे। एक बाइक पर बैठा रहा, जबकि दूसरे ने थोड़ा आगे जाकर छात्रा को जबरन बाइक पर खींच लिया। उसे उठाकर बाइक पर बैठाया। छात्रा ने विरोध किया और खुद को छुड़ाने की कोशिश की, लेकिन नकाबपोश उसे लेकर भाग गए।

संदिग्ध के तौर पर रोहित कुशवाह का नाम सामने आया

छात्रा के चाचा ने पुलिस को संदिग्ध के रूप में लहार निवासी रोहित नाम का व्यक्ति बताया है। रोहित ने छोटी दिवाली पर उनके घर में प्रवेश किया था। उसने छात्रा से छेड़छाड़ की, जब उसने विरोध किया तो उसे पीटा और पिस्तौल लहराते हुए भाग गया। जिसकी शिकायत लहार थाने में दर्ज कराई गई थी। पुलिस इस डिटेल के आधार पर आरोपियों की तलाश कर रही है।

एएसपी सिटी ऋषिकेष मीना ने बताया कि मामला संवेदनशील है। हमारी प्राथमिकता बच्ची को सुरक्षित बचाना है। कुछ अहम सुराग मिले हैं, जिनके आधार पर टीमें लगी हुई हैं। पुलिस को सीसीटीवी फुटेज में बदमाशों की बाइक का नंबर अधूरा मिला है। घटना के बाद पुलिस ने आरोपियों की तलाश में एक दर्जन टीमें लगाई हैं, लेकिन अभी तक बदमाशों तक नहीं पहुंच पाई है।

Read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001 29 IAS-IPS

Show More
Back to top button