मध्यप्रदेशसियासतस्लाइडर

MP में किसने की भविष्यवाणी ? कीजिए 2023 का इंतजार, हट जाएगी ‘कब्जे की सरकार’, हर नागरिक पर चढ़ा इतने हजार का कर्ज

भोपाल। सीएम शिवराज का दोहरा चरित्र (Cm Shivraj Singh Chouhan) समझ से परे है. मुख्यमंत्री ने हर नागरिक पर 35 हजार रुपए का कर्ज चढ़ा दिया है. गृहमंत्री कांग्रेस के कार्यकर्ताओं से राजनीतिक रंजिश निकाल रहे हैं. BJP पर ऐसे ही तीखे हमले पूर्व मंत्री और एमपी कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी (Jitu Patwari) ने किए. जीतू पटवारी ने कहा कि कब्जे की सरकार और डाके की सरकार को जनता सबक सिखाएगी.

मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि सीएम शिवराज सिंह का दोहरा चरित्र(Shivraj Double Standard) सामने आ गया है. एक तरफ मुख्यमंत्री कर्ज पर कर्ज लिए जा रहे हैं. विकास के बड़े बड़े दावे करते हैं. भरी सभा में पूछते हैं कि प्रदेश के विकास के लिए कर्ज लू या नहीं. जीतू पटवारी ने कहा कि आज प्रदेश का हर व्यक्ति 35 हजार रुपए का कर्जदार है. सरकार को हर साल 18 हजार करोड़ रुपए कर्ज की किश्त के रूप में चुकाने पड़ते हैं.

इसे भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ में सियासी पारा हाई: स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव फिर अचानक दिल्ली रवाना, राजनीतिक कयासों के बीच कह दी ये बड़ी बात

दूसरी तरफ शिवराज सिंह कहते हैं कि अफसर उन्हें सचिवालय में सब हरा भरा बताते हैं, कि प्रदेश बहुत तरक्की कर रहा है. सब ठीक चल रहा है. लेकिन जमीन पर आम लोगों से मिलने के बाद हकीकत कुछ और ही होती है. पूर्व मंत्री ने पूछा कि जब हकीकत कुछ और है तो फिर सीएम शिवराज ने इतना कर्ज क्यों लिया.

‘बदलापुर के राजा हैं गृहमंत्री’

जीतू पटवारी ने गृहमंत्री(Home Minister Narottam Mishra) पर भी निशाना साधा. उन्होंने आरोप लगाया कि गृह मंत्री के इशारे पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं के खिलाफ मुकदमे हो रहे हैं. उनसे राजनीति रंजिश निकाली जा रही है. ये सब गृहमंत्री करवा रहे हैं. वे बदलापुर के राजा है. वे कांग्रेस कार्यकर्ताओं से सियासी बदला ले रहे हैं.

सिंधिया की रैली कोरोना फ्री कैसे ?

पूर्व मंत्री ने ग्वालियर में सिंधिया की रैली (Scindia Road Show) पर भी निशाना साधा. उन्होंने आरोप लगाया कि सिंधिया के रोड शो में कोरोना गाइडलाइन (Corona Guidelines) की जमकर धज्जियां उड़ाई गई. और प्रशासन चुपचाप देखता रहा. आम लोग ऐसा करते तो तुरंत केस हो जाता. गणेश विसर्जन, जन्माष्टमि जैसे त्योहारों पर कोरोना का नाम लेकर सरकार घर में ही रहने के निर्देश देती है. लेकिन ये निर्देश सिंधिया के रोड शो में लागू क्यों नहीं हुए. ये शिवराज सरकार की दोहरी सोच है. पटवारी ने दावा किया कि जनता एक बार फिर सरकार को हराएगी, क्योंकि यह कब्जे की सरकार है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button