मध्यप्रदेशस्लाइडर

किस्मत के बाद सिस्टम का खेल: PM के जन्मदिन पर MP में दिव्यांगों से मजाक! दूर-दूर से दिव्यांगों को बुलाया और नहीं बांटी ट्राई साइकिल

छतरपुर। 17 सितंबर को देशभर में धूमधाम से पीएम मोदी (PM Modi) के जन्मदिन मनाया गया, लेकिन मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में पीएम का जन्मदिन कुछ दिव्यांगों (handicapped) के लिए परेशानी का सबब बन गया. दरअसल छतरपुर जिले के जनपद पंचायत में 17 तारीख को लगभग 100 से 200 दिव्यांग एकत्रित किया गया था. इन्हें बैटरी वाली ट्राई साइकिल (tricycle) दी जानी थी. सभी दिव्यांगों को रसीद लेकर कार्यक्रम स्थल पर बुलाया गया था.

जब तमाम दिव्यांग निर्धारित स्थान पर पहुंचे तो वहां जाकर पता चला कि ट्राई साइकिल मिलने का दिन बदल दिया गया है. हालांकि दिव्यांगों के हाथ में जो रसीदें थी, उनमें साफ तौर पर 17 तारीख लिखा हुआ था. दिव्यांगों का आरोप है कि जिले के तमाम अधिकारी देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के कार्यक्रमों में व्यस्त थे, यही वजह रही की 17 तारीख को है बुलाने के बाद भी ट्राई साइकिल नहीं दी गई.

दूर-दूर से पहुंचे थे दिव्यांग

निर्धारित तारीख पर जिले के दूरदराज से सभी दिव्यांग पहुंचे. कुछ दिव्यांग 100 किलोमीटर दूर से तो कुछ डेढ़ सौ किलोमीटर दूर से आए हुए थे. दिव्यांगों का आरोप है कि उन्हें बुला तो लिया गया लेकिन वह ना तो कोई अधिकारी मौजूद रहा और ना ही किसी ने उनकी कोई पूछ परख की.

कार्यक्रम के लिए हॉल लिया गया लेकिन नहीं हुआ वितरण

संबंधित मामले में जब हमने जनपद पंचायत सीईओ मजहर अली से बात की. तो उनका कहना था कि “जो भी दिव्यांग यहां पर आए हुए हैं, उनके लिए 17 तारीख निर्धारित की गई थी. हमसे जिला प्रशासन ने सिर्फ हमारे विभाग का हॉल मांगा था, जो हमने दे दिया था. बैटरी वाली ट्राई साइकिलें क्यों वितरित नहीं की गई इस संबंध में कोई जानकारी नहीं है.”

पूरा दिन परेशान होते रहे दिव्यांग

दिव्यांगों का आरोप है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन में तमाम अधिकारी व्यस्त थे किसी ने उन्हें ना तो पानी के लिए पूछा और ना ही किसी प्रकार की कोई जानकारी दी. भी पूरा दिन इंतजार करने के बाद अंत में दिव्यांग निराश होकर अपने अपने घर लौट गए.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button