देश - विदेशमध्यप्रदेशसियासतस्लाइडर

MP उपचुनाव का बादशाह कौन ? चार सीटों में से 3 सीट पर आगे चल रही बीजेपी, जानिए पूरी अपडेट

भोपाल। मध्य प्रदेश के उपचुनाव के दंगल का कौन बादशाह होगा, इसका फैसला आज हो जाएगा. 1 लोकसभा और 3 विधानसभा सीटों के लिए हुए उप चुनाव (By Election) की तस्वीर आज साफ हो जाएगी. मतगणना 8 बजे से शुरू है. उपचुनाव में भाजपा चारों सीटों पर आगे चल रही है. खंडवा लोकसभा सीट भाजपा के खाते में जाती दिख रही है.

खंडवा, रैगांव, पृथ्वीपुर और जोबट चारों सीट पर जीत के लिए बीजेपी और कांग्रेस दोनों दावा कर रही हैं. सभी सीटेंमें  सांसद और विधायकों के निधन से खाली हुई थीं. मतगणना के लिए कड़े इंतजाम हैं. इस दौरान किसी भी तरह की अप्रिय स्थिति को संभालने के लिए सुरक्षा के कड़े इंतजाम हैं.

अनूपपुर में Whatsapp पर तीन तलाक: मायके में रह रही पत्नी को पति ने वाट्सऐप पर दिया तलाक, HC ने FIR निरस्त करने से किया इंकार

खंडवा लोकसभा सीट पर बीजेपी प्रत्याशी ज्ञानेश्वर पाटिल आगे चल रहे हैं.

जोबट विधानसभा बीजेपी प्रत्याशी सुलोचना रावत आगे चल रही है. 

रैगांव में कांग्रेस प्रत्याशी कल्पना वर्मा आगे चल रही हैं.

पृथ्वीपुर में बीजेपी प्रत्याशी शुशुपाल यादव आगे चल रहे हैं.

खंडवा लोकसभा उपचुनाव के परिणामों का गणित निर्दलीय प्रत्याशी बिगाड़ सकते हैं. वैसे तो भाजपा के ज्ञानेश्वर पाटिल 18629 वोटों से आगे चल रहे हैं, उन्हें अब तक 127411 वोट मिले हैं. जबकि कांग्रेस के राजनारायण सिंह को 109783 वोट मिले हैं. निर्दलीय प्रत्याशी दारासिंह पटेल खतवासे ने 4319 वोट झटक लिए हैं. जबकि एक अन्य निर्दलीय प्रत्याशी डाक्टर हरेसिह गुर्जर 3599 वोट हासिल कर लिए हैं.

MP में करोड़पति CMO ! जब मेहमान बन घर पहुंची EOW की टीम, फिर छापे में मिली करोड़ों की संपत्ति

इधर आठों विधानसभा सीटों पर 2446 वोट नोटा को मिले हैं. खरगोन में बड़वाह के पांचवें राउंड में भाजपा को 16594 वोट और कांग्रेस को 10347 वोट मिले. भाजपा प्रत्याशी 6247 वोटों से आगे. वहीं भीकनगांव में चौथे राउंड में भाजपा को 11453 वोट मिले और कांग्रेस कांग्रेस को 10118 वोट मिले. खंडवा विधानसभा में चौथे राउंड में भाजपा के ज्ञानेश्वर पाटिल 10903 और कांग्रेस को 13293 वोट मिले. बड़वाह में छठवें राउंड में भाजपा को 19409 और कांग्रेस को 12201 वोट मिले, भाजपा 7208 वोटो से आगे.

read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button