छत्तीसगढ़जुर्मनई दिल्लीस्लाइडर

अब पुलिस के घर में डाका: CAF कॉलोनी में 6 सिपाहियों के घरों के टूटे ताले, सोने-चांदी के गहने सहित लाखों का सामान पार

जांजगीर। नक्सल मोर्चे सहित छत्तीसगढ़ के जिलों और जेलों में सुरक्षा दे रहे छत्तीसगढ़ आर्म्ड फोर्स (CAF) के जवानों के घर ही सुरक्षित नहीं हैं. जांजगीर के पुटपुरा स्थित 11वीं वाहिनी छत्तीसगढ़ सुरक्षा बल की कॉलोनी में ही देर रात चोरों ने 6 मकानों के ताले तोड़ दिए. वहां से सोने-चांदी के गहनों सहित 5 लाख रुपए का सामान ले गए. अगले दिन जब पड़ोसी सोकर उठे तो उन्हें वारदात का पता चला। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई.

पुष्पराजगढ़ में भ्रष्टाचार का गुनहगार कौन ? विकास के दावे खोखले, सरपंच-सचिव और इंजीनियर निर्माणकार्य में लगा रहे पलीता, मनरेगा में भी ठेकेदारी हॉवी !

एडिशनल SP संजय महादेवा ने बताया कि बटालियन (CAF) में रहने वाले सिपाही रामानुज खरे का परिवार दशगात्र कार्यक्रम में शामिल होने व्यासनगर गया था. पड़ोसियों की सूचना पर घर लौटे तो पता चला कि चोर आलमारी का ताला तोड़ कर अंदर रखे सोने-चांदी के जेवर, 50 हजार रुपए सहित ढाई लाख का माल ले गए थे. इसी तरह परिवार के साथ गांव पामगढ़ गए सिपाही स्वरूप नंद कुर्रे के मकान से गहने, 40 हजार रुपए सहित 2 लाख का माल ले गए.

MP में मतदाताओं को लुभाने शराब का सहारा: पंचायत चुनाव से पहले पुलिस ने पकड़ी अंग्रेजी शराब, एक आरोपी गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ सुरक्षा बल, पुटपुरा।

कालोनी में न बाउंड्री वाल, न CCTV कैमरा
इनके अलावा बिलासपुर गए एक सिपाही के मकान से सोने का मंगल सूत्र, अंगूठी, पायल सहित लगभग 1 लाख की चोरी की गई है. इनके अलावा फार्मासिस्ट मनोज गौतम, सिपाही शिव कुमार पाण्डेय, सिपाही सूरज व्यास के मकान के भी ताले टूटे हैं. यह सभी लोग परिवार के साथ बाहर गए हुए हैं. कॉलोनी में 200 मकान हैं. इनमें 700 लोग रहते हैं. इसके बावजूद न तो कॉलोनी में बाउंड्री वाल बनाई गई है और न ही CCTV कैमरा ही लगा है.

read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button