जुर्मनई दिल्लीस्लाइडर

ब्लास्ट से थर्रा उठा इलाका: धमाके से आसमान में एक के बाद एक उछलते रहे 21 सिलेंडर,आग की लपटों से घिरा आसमान

Bhagalpur cylinder blast news: पटना। भागलपुर के नवगछिया इलाके के एक घर में एक के बाद एक 21 रसोई गैस सिलेंडर में हुए ब्लास्ट से पूरा इलाका दहल उठा. लोगों में दहशत का माहौल था. लोग घरों से भाग गए. धमाकों से आग की लपटें दूर-दूर तक दिखाई दे रही थीं. आग लगने के कारणों का अभी पता नहीं चला है. माना जा रहा है कि जिस वक्त यह घटना हुई, उस वक्त अवैध सिलेंडर रिफिलिंग का काम किया जा रहा था.

शहडोल ब्रेकिंग न्यूज: बम ब्लास्ट मामले में NIA की छापेमारी, पटाखा कारोबारी की हो रही तलाश, नक्सल IED ब्लास्ट से हुई थी कई मौतें

घटना के बाद मकान मालिक परिवार समेत घर छोड़कर फरार हो गया. भागलपुर एसडीओ यतेंद्र कुमार पाल के मुताबिक मकान मालिक के खिलाफ मामला दर्ज कर जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा. इसकी जांच चल रही है कि बिना लाइसेंस के उसे इतने सारे गैस सिलेंडर कहां से मिले? पुलिस ने मौके से 60 से ज्यादा सिलेंडर जब्त किए हैं.

पुष्पराजगढ़ में भ्रष्टाचार का गुनहगार कौन ? विकास के दावे खोखले, सरपंच-सचिव और इंजीनियर निर्माणकार्य में लगा रहे पलीता, मनरेगा में भी ठेकेदारी हॉवी !

दोपहर करीब 1.15 बजे सिलेंडर फटने और सिलेंडर में आग लगने की घटना हुई. यह धमाका नवगछिया के नोनियापट्टी में रामचंद्र साह के घर में हुआ. इससे उनके आसपास के कई अन्य घरों में भी आग लग गई. आग बुझाने के दौरान रामचंद्र साह का चेहरा भी जल गया। दो अन्य भी जल गए हैं.

पुलिस के अनुसार घटना के बाद रामचंद्र परिवार और बच्चों के साथ घर के जरूरी कागजात लेकर भाग गया. आग से उसका घर तबाह हो गया है. पुलिस ने क्षेत्र में कम्युनिस्ट कार्यालय में रखे 63 गैस सिलेंडर को जब्त कर लिया है. इनमें से कुछ खाली थे. सिलेंडरों में धमाके व आग के बाद अफरातफरी मच गई.

बताया गया है कि आरोपी रामचन्द्र साह पहले भारत गैस एजेंसी में काम करता था. बाद में उसने गैस एजेंसी की मिलीभगत से गैस सिलेंडर की कालाबाजारी का धंधा शुरू कर दिया. वह अपने घर पर 200 से 300 सिलेंडर रखता था. यहीं से वह सिलेंडरों की कालाबाजारी करता था. एसडीपीओ दिलीप कुमार ने बताया कि रहवासी इलाके में इतनी बड़ी संख्या में सिलेंडर घर में रखना गैर कानूरी है. जांच के बाद सख्त कार्रवाई की जाएगी.

read more- Landmines, Tanks, Ruins: The Afghanistan Taliban Left Behind in 2001

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button