छत्तीसगढ़

मेरे सपने में राम जी आए और कहा कि… , प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम पर तेजप्रताप यादव का बयान, साधा बीजेपी पर निशाना

[ad_1]

नई दिल्ली। आगामी 22 जनवरी अयोध्या में राम मंदिर का प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम है। जिसमें शामिल होने के बाबत अनेकों गणमान्यों को आमंत्रण पत्र भेजा जा चुका है। वहीं कई लोगों ने इस आमंत्रण को स्वीकार कर लिया, तो कइयों ने विरोध किया। बता दें कि बीते दिनों कांग्रेस ने भी राम मंदिर कार्यक्रम में शामिल नहीं होने का फैसला किया था, जिस पर बीजेपी ने हमला बोला था। बीजेपी के वरिष्ठ नेता गिरिराज सिंह ने कांग्रेस को मौसमी हिंदू बताया।

उधर, कांग्रेस ने न्योते ठुकराए जाने की वजह के बारे में बताते हुए कहा कि बीजेपी ने राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को आगामी लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए राजनीतिक कार्यक्रम में तब्दील कर दिया है, लिहाजा हमने फैसला किया कि हम इसमें शामिल नहीं होंगे। वहीं, कई विपक्षी नेताओं का कहना है कि हम 22 जनवरी के बाद अयोध्या जाएंगे और राम मंदिर के दर्शन करेंगे। वहीं, इन सब गतिविधियों के बीच सियासी गलियारों में बयानबाजी का दौर भी जारी है। इस बीच बिहार के पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव का राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को लेकर बयान सामने आया है। आइए, आगे आपको बताते हैं कि उन्होंने क्या कुछ कहा है।

tej pratap yadav

बता दें कि तेजप्रताप यादव ने राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के संदर्भ में कहा कि, ‘, 22 जनवरी को राम जी अयोध्या नहीं आएंगे. राम जी मेरे सपने में आए थे. वो बोले हैं ‘ई सब ढोंग कर रहा है, हम उस दिन ऐबे नहीं करेंगे’. तेज प्रताप ने आगे कहा कि जब चुनाव आता है तो मंदिर आगे आ जाता है. चुनाव खत्म होते ही मंदिर को पूछा नहीं जाता. ये बातें उन्होंने अपने संगठन DSS के स्थापना दिवस कार्यक्रम में कही़।

tej pratap yadav

उधर, राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को लेकर सियासी शोर जारी है। बयानबाजी का सिलसिला अपने चरम पर है। ऐसे में इसका आगामी लोकसभा चुनाव में क्या कुछ असर पड़ता है। इस पर सभी की निगाहें टिकी रहेंगी। तब तक के लिए आप देश दुनिया की तमाम छोटी बड़ी खबरों से रूबरू होने के लिए पढ़ते रहिए। न्यूज रूम पोस्ट.कॉम

[ad_2]

Advertisements
Show More
Back to top button